परछाई : #BlogchatterA2Z

p
Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers

P

             घड़ी के काँटों से इस दौड़ में अक्सर हम ख़ुद से ही आगे निकल जाते हैं | भूल जाते हैं कि हम कौन हैं, हम क्या चाहते हैं और इसी जद्दोजहत में अपनी परछाई से भी अजनबी हो जाते हैं |

ख़ुद  से  बिछड़े, जाने  कब  अरसा  हो  चला,

के  आज  अपना  ही  अक्स, यूँ  अन्जान  सा  क्यूँ  है ?

वो  मैं  ही  था, और  ये  भी  मैं  हूँ,

फिर  आईना  यूँ, परेशान  सा  क्यूँ  है ?

निकल  पड़े  थे, समय-की-लहरों  पर  होकर  सवार ,

फिर  देखकर  मंज़िल, धड़कानों  में  उफ़ान  सा  क्यूँ  है ?

के  ढल  ही  जाता  है  हर  शख़्स, वक़्त  के  इन  सांचों  में,

फिर  ख़ुद  से  अजनबी  हो  जाने  का, यूँ   इल्ज़ाम  सा  क्यूँ  है ?

शक्ल-ओ-सूरत  से  हम  मुख्तलिफ  न  सही,

फिर  ज़ह्न-ओ-दिल  इस  जिस्म  में, महमान  सा  क्यूँ  है ?

के  आज  भी  ये  दिल  नूर-ए-पाक़  सा  रोशन  है,

फिर  मिलकर  अपनी  ही  परछाई  से, यूँ  हैरान  सा  क्यूँ  है ?

यूँ  हैरान  सा  क्यूँ  है ??

♥ ♥ ♥                                 doc2poet

अगर आपको मेरी कविताएँ पसन्द आयें तो मेरी पुस्तक “मन-मन्थन : एक काव्य संग्रह” ज़रूर पढ़ें| मुझे आपके प्यार का इन्तेज़ार रहेगा |

1qws (2)
Buy online

आईना और मैं…

Indian Bloggers

mirror-mirror-on-the-wall-7
Source here

घड़ी के काँटों से इस दौड़ में, अक्सर हम ख़ुद से ही आगे निकल जाते हैं |

इसी कश्मकश को समर्पित चन्द पंक्तियाँ आपकी नज़र करता हूँ…


ख़ुद से बिछड़े, जाने कब अरसा हो चला,

के आज अपना ही अक्स, यूँ अन्जान सा क्यूँ है,

वो मैं ही था, और ये भी मैं हूँ,

फिर आईना यूँ ,परेशान सा क्यूँ है,

निकल पड़े थे, समय-की-लहरों पर सवार होकर,

फिर देखकर मंज़िल, धड़कानों में उफ़ान सा क्यूँ है,

के ढल ही जाता है हर शक्स, वक़्त के इन सांचों में,

फिर ख़ुद से अजनबी हो जाने का, यूँ  इल्ज़ाम सा क्यूँ है,

शक्ल-ओ-सूरत से हम मुख्तलिफ न सही,

फिर ज़ह्न-ओ-दिल इस जिस्म में, महमान सा क्यूँ है,

के आज भी ये दिल नूर-ए-पाक़ सा रोशन है,

फिर मिलकर अपनी ही परछाई से, यूँ हैरान सा क्यूँ है,

यूँ हैरान सा क्यूँ है…

***

This post is written for Indipire Edition 103. One fine day, you bump into someone who resembles you, and you realise that he/she is your twin. How would you react? #ImaginativeStory.